10th Science Objective Test 5 | 10th Science Objective Question In Hindi

10th Science Objective Test 5 | 10th Science Objective Question In Hindi  | 10th Science Objective Test 5 | 10th Science Objective Question In Hindi 

10380

10th Science Objective Test 5

1 / 9

41. निम्नलिखित में से कौन सबसे कम अभिक्रियाशील धातु है?

2 / 9

42. कार्बन की परमाणु संख्या है-

3 / 9

43. असंतृप्त हाइड्रोकार्बन जिनमें कार्बन-कार्बन परमाणु के बीच त्रि-आबंध होते हैं, वे कहलाते हैं-

4 / 9

44. एथेनॉल के क्रियाशील मूलक का सूत्र है-

5 / 9

45. जब किसी अभिक्रिया के समय किसी पदार्थ में ऑक्सीजन की वृद्धि होती है, तो निम्नलिखितं क्या कहा जाता है?

6 / 9

46. अम्ल का pH मान होता है-

7 / 9

46. अम्ल का pH मान होता है-

8 / 9

47. धोने का सोडा का आणविक सूत्र है-

9 / 9

48. मधुमक्खी का डंक एक अम्ल छोड़ता है, जिसके कारण दर्द एवं जलन का अनुभव होता है। यह अम्ल है-

Your score is

The average score is 64%

0%

प्रश्न 4. गुटेनबर्ग ने मुद्रण यंत्र का विकास कैसे किया [2018(A)]

उत्तर — गुटेनबर्ग का जन्म जर्मनी के मेन्जनगर में कृषक-जमींदार-परिवार में जन्म हुआ था। गुटेनबर्ग ने अपने ज्ञान एवं अनुभव से टुकड़ों में बिखरी मुद्रण कला
के ऐतिहासिक शोध को संघटित एवं एकत्रित किया तथा टाइपों के लिए पंच, मेट्रिक्स मोल्ड आदि बनाने पर योजनाबद्ध तरीके से कार्यारंभ किया। मुद्रा बनाने हेतु उसने
सीसा, टिन (राँगा) और बिस्मथ धातुओं से उचित मिश्रधातु बनाने का तरीका ढूँढ़ निकाला । गुटेनबर्ग ने आवश्यकता के अनुसार मुद्रण स्याही भी बनायी तथा हैण्डप्रेस का प्रथम बार मुद्रण-कार्य सम्पन्न करने में प्रयोग किया। इस प्रकार एक सुस्पष्ट, सस्ता एवं शीघ्र कार्य करनेवाला गुटेनबर्ग का ऐतिहासिक मुद्रण शोध 1440 ई. में शुरू हुआ।

 

प्रश्न 3. औद्योगिक क्रांति ने किस प्रकार विश्व बाजार के स्वरूप को विस्तृत किया? [2018A]

उत्तर—-विश्व बाजार के स्वरूप का विस्तार औद्योगिक क्रांति के बाद ही हुआ। इस क्रांति ने बाजार को तमाम आर्थिक गतिविधियों का केंद्र बना दिया। जैसे-जैसे
औद्योगिक क्रांति का विकास हुआ, बाजार का स्वरूप विश्वव्यापी होता चला गया और 20वीं शताब्दी के पहले तक तो इसने सभी महादेशों में अपनी उपस्थिति कायम
कर ली। उत्पादन के बढ़ते आकार से कच्चे मालों की आवश्यकता हुई जिसने इंगलैंड को उत्तरी अमेरिका, एशिया (भारत) और अफ्रीका की ओर ध्यान आकर्षित
किया जहाँ उसे कच्चा माल के साथ बना-बनाया एक बाजार भी मिला।

 

 

प्रश्न 1. शहरों ने किन नई समस्याओं को जन्म दिया ?
[2018(A)]

उत्तर—नये-नये शहरों का उद्भव और शहरों की बढ़ती जनसंख्या ने बहुत सारी नई समस्याओं को जन्म दिया। शहरों में श्रमिकों की संख्या अधिक थी तथा लोककल्याण की भावना की कमी थी, जिसके कारण शहरों में कई नई समस्याओं का जन्म हुआ जैसें बेरोजगारी में वृद्धि, स्वास्थ्य संबंधी समस्या इत्यादि ।

 

प्रश्न 3. कोयला एवं लौह उद्योग ने किस प्रकार औद्योगिकीकरण को गति प्रदान की? [2018A]

उत्तर-ब्रिटेन में कोयले एवं लोहे की खानें थीं। वस्त्र उद्योग की प्रगति कोयले एवं लोहे के उद्योग पर निर्भर कर रही थी। वाष्प के इंजन बनने के बाद रेलवे इंजन बनने लगे जो कारखाना के लिए कच्चा माल लाने तथा तैयार माल ले जाने में सहायक सिद्ध हुआ। 1815 ई. में हम्फ्री डेवी ने खानों में काम करने के लिए ‘सेफ्टी लैम्प’ (Sefety Lamp) का आविष्कार किया। 1815 ई० में हेनरी बेसेमर ने लोहा को गलाने की भट्ठी का आविष्कार किया। नई-नई मशीनों को बनाने के लिए लोहे की आवश्यकता बढ़ती गई। नवीन आविष्कारों के कारण लोहे का उत्पादन बड़े पैमाने पर होने लगा जिससे आने वाले युग को ‘इस्पात युग’ भी कहा गया । इस प्रकार कोयला एवं लौह उद्योग ने औद्योगिकीकरण को गति प्रदान की।

 

 

प्रश्न 5. सत्ता की साझेदारी के अलग-अलग तरीके क्या हैं ?

उत्तर-लोकतंत्र में सरकार की सारी शक्ति किसी एक अंग में सीमित नहीं रहती है, बल्कि सरकार के विभिन्न अंगों के बीच सत्ता का बँटवारा होता है। यह बँटवारा सरकार के एक ही स्तर पर होता है। उदाहरण के लिए, सरकार के तीनों
अंगों विधायिका, कार्यपालिका एवं न्यायपालिका के बीच सत्ता का बँटवारा होता है और ये सभी अंग एक ही स्तर पर अपनी-अपनी शक्तियों का प्रयोग करके सत्ता में साझेदार बनते हैं। सरकार के एक स्तर पर सत्ता के ऐसे बँटवारे को हम सत्ता का क्षैतिज वितरण कहते हैं । सत्ता में साझेदारी की दूसरी कार्य-प्रणाली में सरकार के विभिन्न स्तरों पर सत्ता का बँटवारा होता है । सत्ता के ऐसे बँटवारे को हम सत्ता का ऊर्ध्वाधार वितरण कहते हैं।

प्रश्न 7. किन्हीं दो प्रावधानों का जिक्र करें जो भारत को धर्म-निरपेक्ष देश बनाता है? [2018A]
अथवा
भारतीय संविधान के दो प्रावधानों का वर्णन करें जो भारत को धर्म-निरपेक्ष राज्य बनाते हैं। [2011C]

उत्तर—

(1) भारतीय संविधान की प्रस्तावना में सांविधान संशोधन द्वारा भारत को धर्मनिरपेक्षण राज्य घोषित किया गया है।


(ii) संविधान में इस बात का स्पष्ट उल्लेख कर दिया गया है कि भारत का अपना कोई धर्म नहीं है।

10th Science Objective Test 5 | 10th Science Objective Question In Hindi  | 10th Science Objective Test 5 | 10th Science Objective Question In Hindi 

आपने दोस्तों में शेयर करे